Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

Memory

Mumbai | सितंबर 28, 2020
जटिल समस्याओं के निदान हेतु ‘मस्तिष्क-सदृश’ कम्प्यूटर्स के सहायतार्थ एक हार्डवेयर न्यूरॉन

शोधकर्ताओं ने रेंडम एक्सेस मेमोरी का उपयोग करके, कृतिम प्रज्ञा अर्थात आर्टिफ़िशियल इंटेलिजेन्स के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण खोज को दिशा देते हुये, एक शक्तिशाली यादृच्छिक तंत्रिका कोशिका अर्थात न्यूरॉन को विकसित किया है। 

General, Science, Technology, Engineering, Deep-dive
Memory की  सदस्यता लें!