Sorry, you need to enable JavaScript to visit this website.

News

मुंबई | दिसम्बर 31, 2021
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के शोधकर्ताओं के दल ने X-पुरस्कार छात्र प्रतियोगिता अपने नाम की।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के शोधकर्ताओं के प्रस्ताव को कार्बन निष्कासन के लिए दी जाने वाली X-पुरस्कार छात्र प्रतियोगिता में चयनित किया गया।

General, Science, News
मुंबई | दिसम्बर 20, 2021
भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के प्राध्यापक सुब्रमण्यम चंद्रमौली को वर्ष 2021 के लिए प्रतिष्ठित स्वर्णजयंती फैलोशिप से सम्मानित किया गया।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के प्राध्यापक सुब्रमण्यम चंद्रमौली को 'हरित ऊष्मा' उत्पन्न करने के उनके अभिनव प्रस्ताव के लिए स्वर्णजयंती फैलोशिप वर्ष 2021 से सम्मानित किया गया।

General, Science, Technology, Society, News
मुंबई | अक्टूबर 4, 2021
तन्तुहीन रूप से (वायरलेस) संचालित संचार नेटवर्क की ऊर्जा दक्षता का अभिवर्धन

शोधकर्ताओं ने एक नया कृत्रिम प्रज्ञा ()समर्थ अल्गोरिद्म विकसित किया है जो तन्तुहीन (वायरलैस ) रूप से संचालित संचार जालक (नेटवर्क) की ऊर्जा दक्षता में उल्लेखनीय वृद्धि करता है।

General, Science, Technology, Engineering, Society, News
मुंबई | अक्टूबर 4, 2021
तन्तुहीन रूप से (वायरलेस) संचालित संचार नेटवर्क की ऊर्जा दक्षता का अभिवर्धन

शोधकर्ताओं ने एक नया कृत्रिम प्रज्ञा ()समर्थ अल्गोरिद्म विकसित किया है जो तन्तुहीन (वायरलैस ) रूप से संचालित संचार जालक (नेटवर्क) की ऊर्जा दक्षता में उल्लेखनीय वृद्धि करता है।

General, Science, Technology, Engineering, Society, News
मुंबई | सितंबर 14, 2021
सुदूर क्षेत्रों में सौर माइक्रोग्रिड, दीर्घकालिक एवं स्वच्छ ऊर्जा स्रोत

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मुंबई के शोधकर्ताओं ने सिक्किम के एक ऊंचाई वाले स्थान में एक सौर माइक्रो-ग्रिड स्थापित किया है।

General, Science, Technology, Engineering, News
मुंबई | मई 7, 2021
प्रतिकर्षी रंग से लेपित सतहों पर द्रव की प्रतिक्रिया

शोधकर्ताओं ने यह अध्ययन किया कि जल उन सतहों पर किस तरह प्रवाहित होता है जो उसे अत्यधिक विकर्षित करता  है।

General, Science, Technology, Deep-dive, News
Bengaluru | सितंबर 18, 2020
आप श्वास ले रहे हैं कि विषपान कर रहे हैं? वायु प्रदूषण भारत में मृत्यु का एक प्रमुख कारण है,  एक अध्ययन से पता चला है.

आजकल का अदृश्य हत्यारा, वायु प्रदूषण, आज एक प्रमुख वैश्विक स्वास्थ्य के जोखिम के रूप में हमारे सामने है, जिसने निम्न और मध्यम आय वाले देशों को अधिक प्रभावित किया है। दुनिया के 15 सबसे प्रदूषित शहरों में से 14 अकेले भारत में ही  हैं। इसके उचित समाधान हेतु विभिन्न राज्यों में वायु प्रदूषण के स्तर और प्रभाव को समझने के लिए एक राष्ट्रव्यापी व्यापक अध्ययन आवश्यक था। “लैनसेट प्लैनेटरी हेल्थ” नामक शोध-पत्रिका में प्र

General, Science, Health, Society, News
गुजरात | जून 6, 2020
टीबी या क्षय रोग से लड़ने के लिए नई दवाओं पर शोध

टीबी या क्षय रोग, जो माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरक्लोसिस नामक बैक्टीरिया के कारण होता है, दुनिया भर में मृत्यु का एक प्रमुख कारण है। अकेले २०१७ में, दुनिया भर में १ करोड़ लोग इस बीमारी से प्रभावित थे, और लगभग १६ लाख लोगों ने इसकी वजह से दम तोड़ दिया। कई मौजूदा दवाओं के प्रतिरोध विकसित करने वाले बैक्टीरिया के कारण, भारत जैसे देशों में यह स्थिति गंभीर हो रही है। हाल ही के एक अध्ययन में, वीर नर्मद दक्षिण गुजरात विश्वविद्यालय, गुजरात के शोधकर्ताओं ने ट्यूबरक्लोसिस  के खिलाफ कुछ संभावित दवाओं का विकास किया है और टीबी बैक्टीरिया और अन्य रोगाणुओं के प्रतिकूल उनकी दक्षता का पर

General, Science, Technology, Health, Society, News
धनबाद | मई 15, 2020
प्रकाश आधारित संवेदक के द्वारा रक्त शर्करा की निगरानी

एक नवीन अध्ययन के अंतर्गत भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (भारतीय खनि विद्यापीठ), धनबाद के शोधकर्ताओं ने रक्त में शर्करा की निगरानी हेतु एक प्रकाश आधारित रक्त शर्करा संवेदक विकसित किया है। शोधकर्ताओं का कहना है कि  यह रक्त-शर्करा (रक्त में स्थित ग्लूकोज की मात्रा) को १० से २०० मिग्रा की विस्तृत सीमा तक माप सकता है। एक स्वस्थ वयस्क के लिए खाली पेट की स्थिति में रक्त शर्करा का औसत स्तर ७० से १२० मिलीग्राम/डेसीलीटर तक होता है।

General, Science, Technology, Health, News
नई दिल्ली | मई 11, 2020
भारत में तापमान बढ़ने से फसल उत्पादन के लिए खतरा हो सकती है।

भारत में तापमान बढ़ने से फसल उत्पादन के लिए खतरा हो सकती है।

General, Science, Ecology, News
News की  सदस्यता लें!